'Sahi' way to save tax - Scripbox Tax Saver
EXPLORE
Skip to main content
Scripbox Logo

कार खरीद रहे हैं तो नई खरीदें या पुरानी? जानें हर सवाल का जवाब

अक्सर लोग ब्रांड न्यू कार लेने के लिए लालायित रहते हैं, लेकिन जरूरी नहीं है कि ये हर किसी के बजट के लिए ठीक हो। शायद, आपने कुछ टेस्ट ड्राइव की हों और अपना पसंदीदा मॉडल चुन लिया हो। लेकिन आप नई और पुरानी कार के बीच में तय नहीं कर पा रहे हैं कि किसे लें। तो चलिए आपको बताते हैं इसके नफा और नुकसान।

अक्सर लोग ब्रांड न्यू कार लेने के लिए लालायित रहते हैं, लेकिन जरूरी नहीं है कि ये हर किसी के बजट के लिए ठीक हो। शायद, आपने कुछ टेस्ट ड्राइव की हों और अपना पसंदीदा मॉडल चुन लिया हो। लेकिन आप नई और पुरानी कार के बीच में तय नहीं कर पा रहे हैं  कि किसे लें। तो चलिए आपको बताते हैं इसके नफा और नुकसान। 

1. डेप्रिसिएशन इफेक्ट:

डेप्रिसिएशन यानी छिपी हुई लागत और आपको कार खरीदते समय ज्यादा पैसे देने होंगे। उदाहरण के तौर पर, अगर आप नई कार 5 लाख रुपये में खरीद रहे हैं, इस दौरान हर साल का डेप्रिसिएशन रेट 20 फीसदी है तो इसकी रीसेल वैल्यू इसकी ऑरिजिनल कीमत की आधी यानी 2.6 लाख रुपये होगी। इसके उलट अगर आपको उसी मॉडल की तीन साल पुरानी कार खरीदनी है तो उसके लिए आपको कम पैसा चुकाना होगा। इसके अलावा, डेप्रिसिएशन नई कार (2.44 लाख रुपये) के मुकाबले (1.25 लाख रुपये) ही होगा। 

इसके अलावा, नई कार खरीदने वाले ऑपोर्चुनिटी कॉस्ट का फायदा नहीं उठा पाते। अगर नई कार खरीदने के लिए इकट्ठा किए जाने वाले पैसे को इक्विटी में लगा दिया जाए तो आपको 1 लाख रुपये ज्यादा मिल सकते हैं। 

2. रखरखाव और मरम्मत का खर्च

शुरुआती सालों में, नई कार को कम मेंटीनेंस (रखरखाव) की जरूरत होती है। इस दौरान आपकी वारंटी जारी रहती है और इस तरह से आप किसी भी खराबी को सही करा सकते हैं। बहरहाल, पुरानी कार में कुछ समय बाद ही अतिरिक्त खर्चे लगने लगते हैं। इस दौरान टायर या बैटरी की रिप्लेसमेंट, ब्रेक पैड बदलने के लिए, क्लच प्लेट बदलने के लिए, एसी सर्विसिंग और आदि को लेकर खर्च होता है। इसके अलावा आपके पास इसे ठीक कराने के लिए समय और साधन होना चाहिए। 

3. अफोर्डेबिलिटी और अपग्रेड

पुरानी कार खरीदने से आपके पैसे कम खर्च होंगे। इसके अलावा आपके पास उसी बजट पर अच्छा मॉडल खरीदने का मौका भी होगा। उदाहरण के तौर पर 4 लाख रुपये में हैचबैक खरीदने की बजाय आप उसी कीमत पर चार साल पुरानी सेडान खरीदने के बारे में सोच सकते हैं। वैसे इस फैसले को लेने से पहले मेंटीनेंस को लेकर भी सोच विचार कर लेना चाहिए।

4. इंश्योरेंस और रजिस्ट्रेशन

जितनी ज्यादा आपकी कार की मार्केट वैल्यू होगी, उतना आपका सालाना इंश्योरेंस प्रीमियम होगा। इसलिए अगर आप महंगी कार खरीद रहे हैं तो आपको अपेक्षाकृत ज्यादा प्रीमियम देना होगा। इसके अलावा नई कार के रजिस्ट्रेशन में भी आपको ज्यादा पैसा देना होगा।    

5. टेक्नॉलजी 

नई कार खरीदने के अपने फायदे हैं। यह आपको नई टेक्नॉलजी और फीचर्स देती है जो आपकी कार की कीमत को आपको ज्यादा नहीं लगने देती। एक बढ़िया एवरेज देने वाला इंजन लंबे समय में आपके इंधन की खपत को कम करता है और स्मार्ट गैजेट ड्राइविंग को सेफ बनाते हैं। इसके उलट, नए-नए लॉन्च किए गए मॉडल मैन्यूफैक्चरिंग डिफेक्ट के रिस्क के साथ भी आते हैं। 

6. रीसेल कीमत को अनदेखा न करें

कार की रीसेल वैल्यू सेकंडरी मार्केट में डिमांड और सप्लाई का एक हिस्सा है। कार मैन्यूफैक्चरर जितना लोकप्रिय होगा, सेकंडरी मार्केट में उसकी कार की सप्लाई उतनी ज्यादा होगी। बहरहाल, सभी कार मॉडल एक ही रेट पर कार की कीमत कम नहीं करते। 

कार की मार्केट वैल्यू कई फैक्टर जैसे मॉडल, कितने किलोमीटर चली है, गाड़ी की कंडीशन, रजिस्ट्रेशन वाला शहर, आप इसके पहले या दूसरे मालिक हैं के आधार पर तय होती है। 

इसलिए अगर आप पुरानी कार खरीद रहे हैं, तो पता कर लें कि उसकी सेकंडरी मार्केट में ठीक ठाक डिमांड है कि नहीं। इस तरह से भविष्य में आपको इसे बेचने में कोई दिक्कत नहीं होगी। 

दिलचस्प बात ये है कि कुछ निर्माता आपको कुछ सालों पुरानी कार को पूर्व निर्धारित कीमत पर बेचने की बात करेंगे। लेकिन इस दौरान कार को अच्छी तरह से जांच परख लें और फिर ही खरीदने के लिए सिग्नेचर करें।  

7. विश्वसनीयता

पुरानी कार खरीदने से पहले मैकेनिक से उसकी अच्छी तरह से जांच करवा लें। ऐसा करवाने के बाद भी, गड़बड़ी निकलने की गुंजाइश होती है। इसके उलट, नई कार को किसी तरह की जांच की जरूरत नहीं पड़ती। वहीं, कई कार पोर्टल आपकी पुरानी कार की अनुमानित कीमत कई सारे मानदंडो को देखते हुए बताते हैं। हो सकता है जो आपको मिल रहा हो वो बहुत कम हो। 

बात पते की

कम शब्दों में कहें तो कार कोई निवेश नहीं है, इसलिए बजट से ज्यादा पैसा न लगाएं। नई या पुरानी कार खरीदने से पहले नफा-नुकसान के बारे में विचार करें और उसके बाद ही साइन करें।

Achieve all your financial goals with Scripbox. Start Now