Skip to main content
Scripbox Logo

बढ़िया खर्च करने के साथ बचत कैसे करें, जानें जापानियों का 80% वाला नियम

फाइनेंशियल तौर पर सुरक्षित होने का मतलब है कि आप इस तरह से बचत और निवेश करें कि आपको अपने लाइफस्टाइल को बनाए रखने के लिए अपनी सैलरी पर निर्भर ना रहना पड़े। ज्यादातर इस तरह की फाइनेंशियल सिक्यूरिटी को रिटायरमेंट लेवल तक पाने की कोशिश की जाती है।

फाइनेंशियल तौर पर सुरक्षित होने का मतलब है कि आप इस तरह से बचत और निवेश करें कि आपको अपने लाइफस्टाइल को बनाए रखने के लिए अपनी सैलरी पर निर्भर ना रहना पड़े। ज्यादातर इस तरह की फाइनेंशियल सिक्यूरिटी को रिटायरमेंट लेवल तक पाने की कोशिश की जाती है।

सहज रूप से, ज्यादा बचत, कर्ज़ मुक्त होना और नियमित रूप से निवेश करते हुए आप इसे पा सकते हैं। हालांकि, ये सब बहुत ज्यादा आसान नहीं है।

वहां तक पहुंचने के लिए आपको अपने व्यवहार में बदलाव करने होंगें। जानिए कैसे।

जापानियों का 80% रूल फॉलो करें।

जापानी लोग खाना खाते समय अपनी भूख का 80% ही खाते हैं ना कि पूरा 100%। ऐसा करने से वो  फ़िज़ूल का खाने से तो बचते ही हैं साथ ही उनकी हेल्थ भी अच्छी रहती है। यही नियम आपको अपने लाइफस्टाइल में अपनाना है; ऐसा लाइफस्टाइल ना रखें जिससे आपका सारा पैसा, मतलब 100% ही खर्च हो जाए बल्कि 80% खर्च करने की कोशिश करें। हर समय खर्च करते हुए आप ये नियम खुद पर लागू कर सकते हैं। जैसे कि अगर आप 6 लाख की कार लेना चाहते हैं तो 5 लाख तक में कोई अन्य अच्छे मॉडल की कार ढूंढने की कोशिश करें।

आपकी इस आदत से बचत तो होती ही है, साथ ही रेगुलर इनकम ना आने पर भी आप आसानी से अपनी लाइफस्टाइल को अच्छे से जी सकते हैं। और आप इससे ज़रूर फाइनेंशियल तौर पर सुरक्षित महसूस करेंगें।

"सबसे बड़ी गलती हाउसिंग लोन लेना होगी जिसमें महीने का लोन चुकाने के लिए आपको हर महीने अपनी आमदनी का 50% या उससे अधिक खर्च करना पड़ेगा। आपके सभी लोन या महीने भर की किस्तें आपकी आमदनी के 20% या ज्यादा से ज्यादा 25% से अधिक नहीं होनी चाहिए। 

कोशिश करें कि आप अपनी आय के 20% में ही अपने महीने भर की किस्तें और कर्ज़ चुका दें

आपके पास लोन लेने के कई कारण हो सकते हैं - कार, घर खरीदना, अपने बीमार माता-पिता के मेडिकल बिलों का भुगतान करना या यहां तक कि इमरजेंसी में घर की मरम्मत के लिए बिल देना। सबसे बड़ी गलती हाउसिंग लोन लेना होगी जिसमें महीने का लोन चुकाने के लिए आपको हर महीने अपनी आमदनी का 50% या उससे अधिक खर्च करना पड़ेगा। आपके सभी लोन या महीने भर की किस्तें आपकी आमदनी के 20% या ज्यादा से ज्यादा 25% से अधिक नहीं होनी चाहिए।

तभी आपके पास अपनी लाइफस्टाइल को अच्छे से फॉलो करने के लिए पैसा होगा। अगर आपको कुछ खरीदने के लिए लोन लेना है, तो इसका मतलब है कि आपके पास उसके लिए पैसा नहीं है और आप जापान का 80% नियम फॉलो नहीं कर रहे हैं।

बढ़ती संपत्ति के लिए निवेश करें

बांड और डिपॉजिट्स जैसे नियमित आय निवेश सुरक्षित होते हैं, हालांकि, वे आपके पैसे को बढ़ने में मदद नहीं करेंगे। पैसा बढ़ाने के लिए आपको ऐसे निवेश करने होंगे जिनमें रिटर्न ज्यादा जल्दी हो। बदले में आपको अधिक आर्थिक रूप से जागरूक होने और अपने निवेश में कुछ रिस्क लेना सीखना होगा। दो आदतें हैं जिनको अपनाना चाहिए - जल्द से जल्द इक्विटी जैसी ग्रोथ एसेट में निवेश करना शुरू करें ताकि आप अपने लाभ के लिए समय का उपयोग कर सकें और दूसरी बात इसे एक रेगुलर आदत बना लें। 

रोजमर्रा की जिंदगी में जब हम पर कई तरह के दबाव होते हैं और हम खर्च करते है तब फाइनेंसियल सुरक्षा उतनी ज़रूरी नहीं लगती है। हालांकि, अगर आप यह सोचना शुरू कर देते हैं कि एक समय के बाद आपके पास रेगुलर आमदनी नहीं होगी और बचे हुए 20-25-30 साल आपको अपनी बचत पर ही निकालने होंगें तो आपको समझ आएगा कि अभी के खर्च और आने वाली लाइफ के लिए संतुलन ज़रूरी है।

क्या आप म्यूचूअल फ़ंड्ज़ में निवेश करके अपनी फ़ायनैन्शल सिक्यरिटी को मज़बूत बनाना चाहते हैं? तो इस लिंक पर क्लिक करिए और हमारे Upwardly दोस्तों से जानिए के आप ये कैसे कर सकते हैं । 

Our Most Popular Categories

Achieve all your financial goals with Scripbox. Start Now