Skip to main content
Scripbox Logo

क्या आप 30 साल के हो गये हैं और रिटायरमें के लिए कुछ बचा रहे हैं? इस बात को दिमाग में जरूर रखें

रिटायरमेंट आपके काम करने के अंदाज और लाइफस्टाइल की उस आजादी के बारे में है की आप जो करना चाहते हैं, वो करने की खुली आजादी मिल सके । इसका मतलब सिर्फ इतना ही नहीं है, बल्कि बहुत कुछ है।

हम भारतीय एक ऐसी पीढ़ी के हैं , जो वास्तव में अपने रिटायरमेंट के करीब हैं। हममें से अधिकांश लोग निजी फर्मों में कर रहे हैं। रिटायरमेंट के बाद पेंशन का लाभ नहीं मिलता है। हम बार-बार नौकरी बदलते हैं और हममें से कुछ पहले के लोगों की तुलना में बहुत अधिक अवकाश लेते हैं। हममें से कई लोग अपने माता-पिता की तुलना में बहुत पहले से ही रिटायर होना चाहते हैं।

हमारी अपेक्षा से ज़्यादा आय, अधिक वित्तीय और निवेश साधनों तक पहुंच, और अधिक जानकारी, आरामदायक और सुखपूर्वक रिटायरमेंट के लिए हमें इन पर निर्भर रहना पड़ता है।

हमारी सेवानिवृत्ति के लिए इसका क्या मतलब है?

कई लाखों लोगों के लिए रिटायरमेंट काम करने के अंदाज और लाइफस्टाइल की आजादी के बारे में है। इसका मतलब, आप जो करना चाहते हैं, वो करने की खुली आजादी मिल सके। ये सिर्फ इतना ही नहीं है, बल्कि उससे कहीं अधिक है।

हमारे सामने सबसे बड़ी महंगी लाइफस्टाइल है, जो हर वर्ष और महंगी होती जाती है। हमारे पास कुछ बड़े खर्च हैं, जैसे किराया या होम लोन की ईएमआई और कम्यूटिंग, जो निश्चित हैं और इसके बारे में हम ज़्यादा कुछ नहीं कर सकते हैं। हमारे लाइफस्टाइल के खर्च जैसे कि सप्ताहांत पर होने वाले खर्चे हमारी कमाई का बहुत बड़ा हिस्सा हैं।

आपकी सेवानिवृत्ति निधि स्थिर नहीं है, इसे बढ़ाने की आवश्यकता है

मुद्रास्फीति में वृद्धि या कीमतों में वृद्धि आपके रेटायअर्मेंट फंड को सबसे अधिक प्रभावित करती है और लगातार आपकी बचत के मूल्य को कम कर देती है, अगर वे मुद्रास्फीति की दर के हिसाब से नहीं बढ़ रहे हैं।

जब आप रिटायर होने के लिए तैयार होते हैं तो उस समय आपके पास इतनी बचत होनी चाहिये, जो आपके सालाना घरेलू खर्चों से 25 गुना अधिक हो। यह 25 गुना बचत की राशि आपको निवेश करने की अनुमति देती है और इस निवेश का एक हिस्सा आपको महंगाई से मुकाबला करने में बहुत बड़ी राहत दे सकता है। 

उदाहरण के लिए, प्रति माह 70,000 रुपये खर्च करने वाले परिवार को रिटायरमेंट के समय बचत के लिए 2.1 करोड़ रुपये की आवश्यकता होगी। साथ ही साथ अपना घर भी होना चाहिये।

इसे एक विशाल लक्ष्य के रूप में देखने के बजाय, इसे माइल मार्कर-लक्ष्यों की तरह  देखें, जो असली लक्ष्य का हिस्सा हैं। ऊपर दिए गए उदाहरण में, 2.1 करोड़ रुपये बहुत बड़ी रकम है, लेकिन उसका दस फीसदी हिस्सा यानी 21 लाख रुपये की राशि ज़्यादा आसानी से हासिल की जा सकती है। ईसे आप उचित समय में हासिल कर सकते हैं।

विशाल लक्ष्यों को इस तरह से संभालें

पहले 10% हिस्से को हासिल करने में आपको लंबा समय लग सकता है लेकिन बाद में होने वाले हिस्से आपकी आय बढ़ने के साथ-साथ बहुत तेज और आसान होते जाते हैं। कंपाउंडिंग के प्रभाव से आपके निवेश भी अधिक और तेजी से बढ़ते हैं।

अपने बड़े रिटायरमेंट के टारगेट को अलग हिस्सों में तोड़ना एक लक्ष्य को हासिल करने के लिए पहला कदम है।  पहले अपने लक्ष्य राशि का 10%-20% तक पहुंचने के लिए बचत और निवेश करें । अब यह आपके निवेश पर निर्भर करता है कि वह किस प्रकार का प्रदर्शन करता है, इसके आधार पर ही आपको लक्ष्य हासिल करने के लिए सही रास्ता मिल सकेगा।

रिटायरमेंट के लिए नहीं, बल्कि सच्ची आजादी के लिए

लाखों लोगों के लिए रिटायरमेंट काफी हद तक हमारे जीवन का नेतृत्व करने के तरीके के बारे में है। जो हम चाहते हैं वो करने की आज़ादी और वेतन पर निर्भर नहीं रहने की आज़ादी । दिखने में बहुत बड़े लक्ष्य तक पहुंचने के लिए एक व्यावहारिक दृष्टिकोण की आवश्यकता होती है, जो आपको वहां पहुँचा सकता है, और वो भी एक एक गति के अनुसार जिसे आप वास्तविक रूप से देख सकते हैं। बस आरंभ करें, और प्राप्त करना शुरू करें। भले ही यह आपके लक्ष्य का 1% हो। ऐसा करें और देखें कि यह कैसा लगता है। आपको एहसास होगा कि यह हमारे मेहनत के लायक़ है।

Achieve all your financial goals with Scripbox. Start Now